Home News

शर्मनाक-कांग्रेस ने कश्मीर को बताया ‘भारत अधिग्रहित कश्मीर’

SHARE

भारतीय जनता पार्टी ने कश्मीर को ‘भारत अधिकृत कश्मीर’ बताने पर कांग्रेस पार्टी को निशाने पर लिया है। बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस भारत के अभिन्न अंग कश्मीर को भारत का हिस्सा मानने को भी तैयार नहीं है। बीजेपी का दावा है कि लखनऊ में कांग्रेस पार्टी ने अपनी तरफ से जारी की गई बुकलेट में कश्मीर को ‘भारत अधिकृत कश्मीर’ के तौर पर पेश किया है।

बीजेपी का कहना है कि इससे पहले भी कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान में जाकर बीजेपी के खिलाफ मदद मांग चुके हैं। यह साबित करता है कि कांग्रेस पार्टी देश के साथ नहीं है। यूपी बीजेपी के प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी के मुताबिक कांग्रेस पार्टी ने लखनऊ में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ‘राष्ट्रीय सुरक्षा पर आंच’ शीर्षक से एक बुकलेट जारी की है।

इस बुकलेट के पेज नंबर 12 पर जो नक्शा बनाया गया है उसमें कश्मीर को ‘भारत अधिकृत कश्मीर’ बताया गया है। इससे साफ होता है कि पाकिस्तान और कांग्रेस पार्टी की भाषा एक जैसी है। उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और कांग्रेस पार्टी को अपने इस शर्मनाक कृत्य के लिए पूरे देश से मांफी मांगनी चाहिए।

शलभ मणि ने कहा कि कश्मीर का आतंकवाद और पाकिस्तान से सीमा विवाद कांग्रेस की देन है। करीब छह दशको तक हर मोर्चे पर विफल रही कांग्रेस पार्टी जब कश्मीर समस्या और आतंकवाद पर भारतीय जनता पार्टी की सरकार को सर्टिफिकेट देती है तो हर किसी को हैरानी होती है। देश के लोग देख रहे है कि किस तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय सेना का मनोबल बढ़ा हुआ है और इसके परिणाम स्वरूप पिछले कुछ दिनों में हमारी बहादुर सेना ने कई खुंखार आतंकवादियों को उनके गढ़ में ही मार गिराया है।

उन्होंने कहा कि यह कश्मीर में नौजवानों को आतंकवाद की तरफ ढकेल रहे बुरहान और सबजार अहमद के 9 साथियों को भारतीय सेना मुठभेड़ में ढेर कर चुकी है। भारत सरकार की बड़ी सफलता ही है कि कश्मीर की घाटी से अब नौजवान भारतीय प्रशासनिक सेवाओं में आने लगे हैं। इस बार के ही सिविल सर्विस परीक्षा के नतीजों में जम्मू और कश्मीर से 14 नौजवानों का चयन हुआ है और यह इस बात का सबूत है कि किस तरह घाटी के नौजवानों का भरोसा लोकतंत्र के लिए बढ़ा है।

loading...
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here